loading...

नफरत मिटाने और दिलों में मोहब्बत बढ़ाने के लिए मुस्लिम जोडें की शादी शिव मंदिर में करवाई

loading...

इधर एक ओर पूरा देश सांप्रदायिकता की तपिश में जल रहा है। वहीं कुछ लोग नफरत की इस तपिश को कम करने के लिए हर मुमकिन कोशिश में लगे हुए हैं। बिहार के सुपौल जिले में कुछ ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला। जहां दो अलग-अलग समुदाय के लोगों ने एक मंदिर में मुस्लिम जोड़े का निकाह कराया।

निकाह कराने वाले काज़ी मौलाना जफ्फार ने बताया कि इस दौरान ना सिर्फ मुस्लिम समुदाय के लोग वहां मौजूद थे बल्कि हिंदू समुदाय के लोग भी इस निकाह में शामिल हुए। वहीं, विवाह के साक्षी बने सुमित कुमार सिंह ने कहा कि उन्हें बहुत खुशी है कि यह शादी लड़के और लड़की के साथ-साथ उनके परिजनों की खुशी और सहमति से सम्पन्न हुई।

loading...

उन्होंने कहा कि मुस्लिम और हिंदू दोनों समुदाय के लोगों ने मिलकर इस निकाह की तैयारी की थी

भीमनगर पंचायत इलाके के रहने वाले मोहम्मद सोहान और नुरेशा खातून एक दूसरे को काफी सालों से पसंद करते थे। नुरेशा ने बताया कि वे दोनों दिल्ली चले गए थे.

लेकिन जब वे वहां से लौटे तो दोनों समुदाय के लोगों ने मिलकर इन दोनों का शिव मंदिर में मुस्लिम रीति-रिवाज से निकाह करवाया।

Loading...

loading...
Loading...
अपनी कीमती राय ज़रूर दें, शुक्रिया! नए अपडेट पाने के लिए फेसबुक पेज ज़रूर Like करें, और अपने दोस्तों को भी दावत दें