“कालेधन के आरोप में पुलिस ने बर्तन मांजने वाली महिला को उठाया”

ग्वालियर। कालेधन के रूप में साठ लाख रुपए रखने के आरोप में गुरुवार को पुलिस ने एक बर्तन माजने वाली महिला को उठा लिया। घंटों पूछताछ के बाद पता चला कि आरोपी महिला गंगाबाई लोगों के घरों में काम करके गुजारा करती हैं। पुलिस ने महिला के घर की काफी तलाशी ली। घर का कोना-कोना छान मारा। मगर पैसे नहीं मिले।

पूरा मामला यह है कि 10 नवंबर की सुबह को पुलिस को सूचना मिली कि गंगाबाई अपने घर से एक बड़े से बैग में साठ लाख रूपए लेकर निकली हैं। वो ये रकम लेकर बैंक जा रही हैं। पुलिस बिना सूचना की पुष्टि किए गंगाबाई उठा ले गई और थाने में बिठाकर काफी देर तक पूछताछ किया। जब गंगाबाई ने पैसा होने से इंकार किया तो पुलिस ने उनकी एक न सुनी।

gggg

उसके बाद एक तहकीकाती टीम को तुरंत विनय नगर के पास स्टोर एरिया स्थित गंगाबाई के मकान पर रवाना किया गया। पुलिस ने गंगाबाई के बेड से लेकर घर का कोना-कोना छान मारा, मगर एक भी रुपया नहीं मिला। पुलिस ने उनका पूरा घर बिखेर दिया। इतना ही नहीं गंगाबाई के पड़ोसियों से भी पूछताछ की गई।

इसके बाद जब इस मामले ने तुल पकड़ा तो बहोड़ापुर थाना प्रभारी ने अपना बचाव करते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि यह अफवाह थी। दरअसल, वे चाहते थे कि यदि इतनी रकम के साथ महिला बैंक जा रही है तो उसे सुरक्षा दिया जाए। इससे ज्यादा कुछ मामला नहीं था।