इस्लाम को जितना बदनाम किया गया इस्लाम दुनिया में उतना ही फैलता गया। राजेन्द्र नारायण इतिहासकार

राजेन्द्र नारायण लाल इतिहासकार संसार के सब धर्मो में सबसे विशेष धर्म है इस्लाम और इस धर्म के विरुद जितना दुराचार हुआ है अन्य किसी धर्म के साथ उतना विरुद नहीं हुआ

मुसलमानो का अस्तितव भारत के लिए वरदान साबित हुआ है उत्तर और दक्षिण भारत की एकता का
साम्राज्ये मुसलमानो को ही प्राप्त हुआ है मुसलमानो का समताबाद भी हिन्दुओ को भी प्रभावित किये बिना नहीं रहा अधिकतर हिन्दू जैसे रामानुज,रामानंद,नानक,चेतन,आदि मुस्लिम-भारत की देन है

भक्ति आंदोलन कट्टरता जैसे बहुत कुछ नियंत्रित किया सिख धर्म और आर्य समाज जो एकेश्वरवादी और समतावादी है इस्लाम धर्म के प्रभाव का परिणाम है

समता सम्बंदि और सामाजिक सुधर सरकारी कानून जैसे अनिवार्य परिस्थिति में तलाक और पत्नी और पुत्री का सम्मान अधिकार ये सब इस्लाम से प्रेरित है

इस्लाम के विरुद जितने दुराचार हुए इस्लाम उतनी तेजी से पूरी दुनिया में फैलता गया इस्लाम तलवार के जोर से नहीं वल्कि चमत्कारी रूप से फैलता गया इन्ही कारणों से आज इस्लाम धर्म को दुनिया का सबसे अच्छा धर्म मन जाता है।

इस्लाम धर्म की एक विशेसता है की दुनिया के किसी भी अन्य धर्म या जाती को बुरा भला नहीं कहता इस का साक्षी इतिहास गवा है