मुस्लिम महिलाएं बोलीं- हमें शरीयत कानून पसंद फेरबदल किया तो होगा विरोध।

नई दिल्ली। मुस्लिम महिलाओं का मानना है कि उन्हें शरीयत कानून पसंद है और वे इससे खुश हैं. अगर इसमें फेरबदल करने का प्रयास किया तो उसका विरोध किया जाएगा।

इसके समर्थन में मुस्लिम महिला नेता सालेहा मलिक के नेतृत्व में महिलाओं ने हस्ताक्षर अभियान शुरू किया है. इसमें 10 हजार मुस्लिम महिलाओं के हस्ताक्षर लेकर प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को भेजे जाएंगे।

सालेहा मलिक का कहना है कि हम इस्लामी जीवन व्यवस्था से खुश हैं, हम इसमें कोई परिवर्तन नहीं चाहते. अगर ऐसा कुछ हुआ तो विरोध किया जाएगा।