loading...

सरकार खुद बताए मोदी मुसलमानो के प्रधानमंत्री हैं या नहीं -मौलाना खालिद रशीद

तीन तलाक के मामले में केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के बयान पर धार्मिक नेता मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने जवाबी हमला किया है। वेंकैया नायडू ने कहा था कि तीन तलाक के मामले में मोदी का नाम नहीं घसीटा जाना चाहिए।

वहीँ नायडू के इस बयान पर मौलाना फिरंगी महली ने कहा कि वह कह दें कि मोदी मुसलमानों के प्रधानमंत्री नहीं हैं, अगर ऐसा है, तो हम इस मामले में मोदी का नाम लेना बंद कर देंगे। मौलाना ने कहा कि देश के संविधान ने हमें धार्मिक स्वतंत्रता दी है। इसमें किसी भी तरह की दखल बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

आपको बतादे कि पिछले दिनों ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी एक प्रेस कांफ्रेंस करके कहा था कि मोदी सरकार जानबूझकर अपने एजेंडे को आगे बढ़ाते हुए देश में समान नागरिक संहिता लागू करने की कोशिश कर रही है। बोर्ड इस का विरोध करेगी। तीन तलाक के मामले में बोर्ड को सरकारी रवैया हरगिज़ स्वीकार नहीं है।

मौलाना ने कहा कि अगर उन्हें लगता है कि यह महिलाओं का शोषण है, तो हर घंटे में दहेज के लिए एक महिला की हत्या कर दी जाती है, हमारा देश दुनिया के विकसित देशों की सूची में 97 वें नंबर पर आता है, सरकार यह क्यों नहीं देख रही है?

अगली स्लाइड के लिए NEXT बटन पर क्लिक करें

loading...
loading...
अपनी कीमती राय ज़रूर दें, शुक्रिया! नए अपडेट पाने के लिए फेसबुक पेज ज़रूर Like करें, और अपने दोस्तों को भी दावत दें